एमएस धोनी का नाम BCCI ने पद्मभूषण पुरस्कार के लिए किया नॉमिनेट

0
11

नई दिल्ली : टीम इंडिया के महान कप्तानों में शुमार और बेहतरीन विकेटकीपर बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी का नाम बीसीसीआई ने पद्मभूषण अवॉर्ड के लिए नॉमिनेट किया है. धोनी ने हाल ही में श्रीलंका के खिलाफ 300 वनडे खेलने का रिकॉर्ड बनाया था. इसी के साथ वनडे में 100 स्टंपिंग करने वाले दुनिया के इकलौते विकेट कीपर बने थे. बता दें कि महेंद्र सिंह धोनी ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले ही वनडे में चेपॉक स्टेडियम में एक ऐतिहासिक कारनामा कर दिखाया. धोनी ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले वनडे मैच में मुश्किल हालातों में बल्लेबाजी करते हुए अपने इंटरनेशनल करियर का 100वां अर्धशतक लगाया. धोनी ने पहले वनडे में 88 गेंदों पर 79 रन की पारी खेली.

धोनी ने यह पारी तब खेली, जब टीम को इसकी सख्त जरुरत थी. दरअसल, टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत ने 87 रन के कुल स्कोर पर 5 विकेट गंवा दिए थे. इसके बाद धोनी ने टीम की बागडोर संभाली और हार्दिक पांड्या के साथ छठे विकेट के लिए 118 रनों की साझेदारी करते हुए 281 रन के सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया.

धोनी के नाम बतौर कप्तान ये वर्ल्ड रिकॉर्ड हैं दर्ज
महेंद्र सिंह धोनी भारतीय क्रिकेट टीम के सबसे सफलतम कप्तान कहे जाते हैं. एमएस धोनी विश्व के इकलौते कप्तान हैं, जिन्होंने आईसीसी की तीनों ट्रॉफी-टी-20 वर्ल्ड कप, 2011 आईसीसी वर्ल्ड कप, और 2013 में चैम्पियंस ट्रॉफी जीती है.

महेंद्र सिंह धोनी ने 72 टी-20 मैचों में भारत के लिए कप्तानी की है, जिसमें से भारत ने 41 मैच जीते हैं. एक कप्तान द्वारा सबसे ज्यादा टी-20 मैच जीतने का रिकॉर्ड भी धोनी के ही नाम है. धोनी के बाद इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर वेस्टइंडीज के डैरन सैमी हैं, जिन्होंने बतौर कप्तान 27 मैच खेले हैं.

एमएस धोनी विश्व के दूसरे ऐसे कप्तान हैं, जिनकी अगुआई में देश ने 100 से ज्यादा बार वन-डे में जीत हासिल की है. अक्टूबर 2016 तक भारत उनकी कप्तानी में 108 वनडे जीत चुका है. रिकी पॉन्टिंग और न्यूजीलैंड के पूर्व कप्तान स्टीफन फ्लेमिंग के बाद वह तीसरे ऐसे कप्तान हैं, जिन्होंने 300 से ज्यादा इंटरनैशनल मैचों में भारत के लिए कप्तानी की है. जबसे धोनी ने कप्तानी संभाली थी, उससे लेकर अगले 11 टेस्ट मैच तक भारत कोई टेस्ट नहीं हारा था.

NO COMMENTS